दरवाजों के विभिन्न प्रकार

Gharpedia.com helps to Build/Own/Rent/Buy/Sell/Repair/Maintain your dream house by providing all the tips & tricks in easy languages. It provides solutions to all problems pertaining to houses right from concept to completion.

दरवाजा घर का एक अत्यंत महत्वपूर्ण हिस्सा हैं, छत के बाद, यही घर की सुरक्षा के सबसे महत्वपूर्ण उद्देश्य को पूरा करता है। घर का मुख्य उद्देश्य आश्रय और सुरक्षा देना ही तो है।

इंटीरियर डिजाइन करते समय दरवाजे बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। यह घर की खूबसूरती को बढाता है और घर में विभिन्न कमरों को रोशनी और हवा देता है। जब घर से बाहर बहुत ज्यादा शोरशराबा होता है तब ये आवाज को भी रोकने का काम करता है। दरवाजे कमरे के अंदर का वातावरण बनाने के लिए भी उपयोग में लाए जाते हैं, ताकि इंटीरियर्स की हीटिंग या कूलिंग ज्यादा असरदार हो।

बाजार में विभिन्न प्रकार के दरवाजे मिलते हैं जैसे कि फ्लश डोर, पैनल डोर, ग्लास डोर, पीवीसी डोर इ. सामान्य रूप से दरवाजों को निम्नलिखित आधार पर वर्गीकृत किया गया है।

Courtesy - 123rf

ए. स्थान

बी. सामग्री

सी. डोर शटर का संचालन

डी. निर्माण की पद्धति

ई. दरवाजे के हिस्सों की व्यवस्था करना

. स्थान के आधार पर दरवाजों के प्रकार

जब भी आप अपने घर की रचना करते हैं तब यह जानना महत्वपूर्ण है कि दरवाजा कहां लगाया जा सकता है। दरवाजों की स्थिति के आधार पर दरवाजों का नीचे दिए अनुसार वर्गीकृत किया गया है:

01. इंटीरियर डोर

इंटीरियर दरवाजे कमरों को अलग करने के अलावा भी बहुत काम करते हैं और निजता (एकांत) दिलाते हैं। ये अनेक शौलियों में आता है और विभिन्न प्रकार की सामग्रियों से बनता है।

Courtesy - 123rf

02. बाहरी डोर

बाहरी दरवाजे से घर में प्रवेश या बाहर निकला जाता है। ये आमतौर पर स्टील या लकडी के बने होते हैं।

Courtesy - Pixabay

बी. सामग्रियों पर आधारित दरवाजों के प्रकार

दरवाजों की उपलब्ध सामग्रियों के प्रकार को जानने से आपको अपने घर के दरवाजों के लिए बेहतर फैसला करने में मदद मिल सकती है। दरवाजे विभिन्न प्रकार की सामग्रियों से बने होते हैं जैसे लकडी, स्टील, एल्युमिनियम, कॉंच, पीवीसी इ. दरवाजों के निर्माण के लिए प्रयुक्त सामग्री के आधार पर उन्हें निम्नलिखित तरीकों में वर्गीकृत किया गया है:

0१. लकडी या टिंबर के डोर

लकडी या टिंबर का दरवाजा प्रमुख रूप से इंटीरियर डोर के प्रयोगों के लिए उपयोग में लाए जाते हैं। ये दरवाजे साउंड प्रूफिंग, इंसुलेशन या सुरक्षा प्रदान करते हैं। उनका संस्थापन करना और साफ करना आसान होता है।

Courtesy - Pixabay

0२. ग्लास डोर (कॉंच का दरवाजा)

कॉंच के दरवाजे समृद्ध, सुंदर होते हैं और आपके घर में किसी भी प्रवेश मार्ग को रोशन करते हैं। लकडी की फ्रेम्स में लगा कट ग्लास पैनल फ्रंट डोर्स के लिए सुंदर विकल्प है। इस दरवाजे का खराब पहलू ये है कि ये आसानी से टूट जाते हैं।

Courtesy - 123rf

0३. स्टील डोर

इंटीरियर तथा बाहरी प्रयोग में स्टील का दरवाजा उपयोग में लाया जाता है। ये दरवाजे सामने से स्टील के होते हैं जिनमें इंसुलेशन के लिए फोम कोर होता है। अन्य दरवाजों की तुलना में ये बहुत मजबूत होते हैं।

Courtesy - goldmates

0४. पीवीसी डोर

पीवीसी से बने दरवाजे वजन में हल्के होते हैं और उपयोग में आसान होते हैं। ये कई तरह की डिजाइनों तथा रंगों में मिलते हैं और सुंदर लगते हैं। इन दरवाजों का क्षरण नहीं होता और इन्हें बहुत ज्यादा रखरखाव की जरूरत नहीं होती, पर यह खरोंच रोधी नहीं है।

PVC Door
Courtesy - Flicker

0५. फाइबरग्लास डोर

फाइबरग्लास दरवाजा बाहरी प्रयोग के लिए आमतौर पर उपयोग में लाया जाता है। इस दरवाजे में कई डिजाइन विकल्प हैं और इन्हें अधिकतर आकारों और शैलियों में ढाला जा सकता है। ये दरवाजे टिकाऊ और ठोस होते हैं।

Courtesy - Flicker

0६. एल्युमिनियम ग्लेज्ड डोर

ग्लास पैनल के साथ एल्युमिनियम का दरवाजा वाणिज्यिक प्रयोगों में आमतौर पर उपयोग में लाया जाता है। ये मजबूत, टिकाऊ और सिक्योरिटी डोर के रूप में उपयोग में लाए जाते हैं।

Courtesy - Flicker

सी. डोर शटर के प्रचालन पर आधारित दरवाजों के प्रकार

डोर शटर के प्रचालन के आधार पर दरवाजों को निम्नलिखित तरीकों से वर्गीकृत किया गया है:

0१. रोलिंग शटर डोर

रोलिंग शटर डोर्स का उपयोग अधिकांशत: गैरेजों और दुकानों में किया जाता है। ये बहुत ही मजबूत होते हैं और उपयुक्त सुरक्षा देते हैं।

Courtesy - 123rf

0२. फोल्डिंग डोर

फोल्डिंग डोर का उपयोग अकेले किया जाता है या फोल्डिंग पार्टीशन के रूप में किया जाता है ताकि दो कमरों का उपयोग एक कमरे की तरह या अलग अलग किया जा सके।

Courtesy - Flicker

0३. स्लाइडिंग डोर

स्लाइडिंग डोर का उपयोग अधिकतर कार्यालयां में होता है। इन दरवाजों में उपलब्ध मुहाने (ओपनिंग) के आधार पर एक या अधिक स्लाइडिंग शटर होते हैं।

Courtesy - milgard

0४. स्विंगिंग डोर

स्विंगिंग डोर्स का उपयोग अधिकतर ऑफिसों में होता है। इन दरवाजों के शटर फ्रेम पर जुडे होते हैं जो डबल एक्शन (दो तरफा काम करनेवाले) स्प्रिंग्स द्वारा संचालित होते हैं। इस तरह से शटर को अंदर और बाहर दोनों तरफ चलाया जा सकता हैं।

Courtesy - 123rf

0५. रिवॉल्विंग डोर

रिवॉल्विंग डोर का उपयोग अधिकतर ज्यादा आवाजाही वाली जगहों पर किया जाता है यानी सार्वजनिक इमारतों, अस्पतालों, इ. में. ये दरवाजे शटर के एक तरफ घूमते हैं और अपने आप बंद होते हैं।

Courtesy - 123rf

0६. कोलैप्सिबल डोर

कोलैप्सिबल डोर का उपयोग आवासीय इमारतों, दुकानों, गोडाउन्स में मुख्य प्रवेश द्वार के लिए किया जाता है। इन दरवाजों को हल्का खींच या धकेलकर खोला या बंद किया जा सकता है।

Courtesy - 123rf

डी. निर्माण की पद्धति पर आधारित दरवाजों के प्रकार

अपने घर के लिए किसी भी प्रकार के दरवाजे का चुनाव करने से पहले आपको निर्माण की पद्धति जाननी चाहिए। निर्माण की पद्धतियों के आधार पर दरवाजों को निम्नलिखित तरह से वर्गीकृत किया गया है:

0१. पैनल डोर

पैनल डोर का घर के अंदर सबसे सामान्य रूप से उपयोग किया जाता है। यह डोर २,४ या ६ पैनल्स के साथ बना होता है। पैनल प्लायवुड, ब्लॉकबोर्ड, विनीयर, कॉंच, लकडी इ. का बना हो सकता है।

Courtesy - 123rf

0२. फ्लश डोर

आजकल फ्लश डोर का घरों में सबसे सामान्य रूप से उपयोग किया जा रहा है। इस डोर की सतह पर दोनों तरफ कोई जोड नहीं होता।

Courtesy - 123rf

0३. लूवर्ड डोर

लूवर्ड डोर का उपयोग तब किया जाता है जब प्रकृतिक रूप से हवा के आने जाने तथा आराम के लिए शांति के साथ एकांत की इच्छा होती है। लूवर्स कॉंच, टिंबर या प्लायवुड से बने होते हैं।

Courtesy - 123rf

0४. वायर गेज्ड डोर

वायर गेज्डडोर का घर में कीटों और मच्छरों को घुसने से रोकने के लिए किया जाता है। इस डोर को किचन, कैंटीन, खाद्यपदार्थ रखनेवाली आलमारी, रिफ्रेशमेंट रूम्स, होटल्स, मिठाई की दुकानों में लगाया जाता है।

Courtesy - 123rf

ई. दरवाजों के घटकों के प्रबंध के आधार पर दरवाजों के प्रकार

दरवाजों के घटकों की व्यवस्था के आधार पर दरवाजों को निम्नलिखित तरीकों से वर्गीकृत किया गया है:

Courtesy - Flicker
  • बैटेंड और लेज्ड डोर
  • बैटेंड, लेज्ड और ब्रेस्ड डोर
  • बैटेंड, लेज्ड और फ्रेम्ड डोर
  • बैटेंड, लेज्ड, फ्रेम्ड और ब्रेस्ड डोर

आजकल इस प्रकार के दरवाजों का उपयोग नहीं किया जाता क्योंकि लकडी आसानी से उपलब्ध नहीं है और ये बहुत ही महंगा है।

आजकल घर में फ्लश डोर, पैनल डोर और पीवीसी डोर का सबसे सामान्य रूप से उपयोग किया जाता है। इसीलिए दरवाजे घर को सुरक्षा देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं और वे आपके स्वास्थ्य की रक्षा भी करते हैं। बेशक इसका खुशनुमा रूप आपके मिजाज को हमेशा अच्छा बनाए रखेगा।

Also Read:

Flush Doors vs Panelled Doors: Choose the Right Door to Enhance the Beauty of Home
Different Types of Flush Doors

Material Exhibition

Explore the world of materials.
Exhibit your Brands/Products.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More From Topics

Use below filters for find specific topics