18 विभिन्न प्रकार की फ्लोरिंग सामि‍ग्रयां

Gharpedia.com helps to Build/Own/Rent/Buy/Sell/Repair/Maintain your dream house by providing all the tips & tricks in easy languages. It provides solutions to all problems pertaining to houses right from concept to completion.

This post is also available in: enEnglish (English)

जब आपके दिमाग में अपने घर को सजाने का विचार आता है, तब एक अति महत्‍वपूर्ण निर्णय फ्लोरिंग के बारे में लेना होता है। फ्लोरिंग सामग्री आपके इंटिरियर डिजाइन का एक आंतरिक भाग है। इसलिए, फ्लोरिंग सामग्री को चुनने में कई्ं महत्‍वपूर्ण बिंदुओं को ध्‍यान में रखा जाना होता है, जैसे कि उन्‍हें स्‍थापित करने में दिक्‍कतें, फर्श का इस्‍तेमाल कैसे किया जाए, और उसका रखरखाव कैसे किया जाएगा। विभिन्‍न प्रकार के फ्लोरिंग सामग्री की अपनी अनूठी विशेषताएं, कार्य, लाभ और कमजोरियां होती हैं। अत: उनके इस्‍तेमाल, आवश्‍यक फिनिशिंग तथा लागत के अनुसार अनेक प्रकार की फ्लोरिंग सामग्रिया  उपलब्‍ध हैं, जिसमें से एक को बुद्धिमानी से चुनना होता है।

Also Read: Floor Components: All You Like to Know!

नीचे विभिन्‍न प्रकार के फ्लोरिंग सामग्रिया दिए गए हैं:

01. टाइल फ्लोरिंग

टाइल फ्लोरिंग काफी पुरानी, लोकप्रिय और आम रूप से इस्‍तेमाल की जाने वाली फ्लोरिंग है। इस प्रकार की टाइलें अधिकतर रंगीन और चमकीले रोगन की होती हैं, जो अनेक रूपों में उपलब्‍ध हैं, जैसे कि विट्रिफाइड टाइल, सेरामिक टाइल, आदि।

टाइल फ्लोरिंग
Courtesy - 123rf

02. स्‍टोन फ्लोरिंग

स्‍टोन फ्लोरिंग प्राकृतिक, खूबसूरत और हमेशा आकर्षक दिखती है। प्राकृतिक पत्‍थर की टाइलें भी अनेक रूपों में मिलती हैं, जैसे कि लाइम स्‍टोन, ग्रेनाइट, मार्बल, सैंड-स्‍टोन, स्‍लेट, ट्रेवरटाइन, आदि। गरम जलवायु वाले क्षेत्रों में प्राकृतिक रूप से शीतल और ठोस सतह के लिए स्‍टोन फ्लोरिंग अनुकूल है।

स्टोन फ्लोरिंग
Courtesy - 123rf

03. वुड फ्लोरिंग या टिम्‍बर फ्लोरिंग

वुड फ्लोरिंग काफी प्राचीन फ्लोरिंग सामग्री है, लेकिन इसका प्रचलन आज भी है। इसका इस्‍तेमाल विशेष परिस्थितियों में किया जाता है, जैसे कि पहाड़ी और ठंडे इलाकों में। सही देखरेख और रखरखाव के साथ वुड फ्लोरिंग काफी लंबे वक्‍त तक टिकाऊ रह सकती है।

वुड फ्लोरिंग या टिम्बिर फ्लोरिंग
Courtesy - 123rf

04. टेराज़ो (मार्बल चिप्‍स) फ्लोरिंग

टेराज़ो एक अन्‍य प्रकार की लोकप्रिय फ्लोरिंग है जिसकी सिफारिश आम तौर पर बाथरूम, डाइनिंग रूम, कार्यालय, अस्‍पताल, आदि के लिए की जाती है। टेराज़ो में विशेष प्रकार की मार्बल चिप्‍स होती हैं और इसका सरफेस कंक्रीट का होता है।

टेराज़ो (मार्बल चिप्स्) फ्लोरिंग
Courtesy - 123rf

05. मार्बल फ्लोरिंग

मार्बल अथवा संगमरमर एक प्राकृतिक पत्‍थर है, और जब इसे सही ढंग से आकृति दी जाए तब इसे बेहतरीन फ्लोरिंग के रूप में तब्‍दील किया जा सकता है। मार्बल फ्लोरिंग घरों में लगाने के लिए सबसे अधिक उपयुक्‍त, लग्‍ज़रिअस और आकर्षक फ्लोरिंग है।

मार्बल फ्लोरिंग

06. मोज़ेक फ्लोरिंग

मोज़ेक फ्लोरिंग काफी प्राचीन फ्लोरिंग है। मोज़ाइक फ्लोर को पत्‍थर के छोटे और गोल टूकड़ों से बनाया जाता है। इन टुकड़ों से एक ऐसा डिजाइन उभरकर आता है जो कमरे को शानदार खूबसूरती प्रदान करता है।

मोज़ेक फ्लोरिंग
Courtesy - 123rf

07. पीवीसी फ्लोरिंग

पीवीसी का मतलब पॉलीविनाइल क्‍लोराइड है। इसकी टाइलें रंगीन होती हैं जिनकी ऊपरी भाग की सतह मुलायम और नीचे की सतह खुदरी होती है। पीवीसी फ्लोरिंग में चमक होती है और यह, आधुनिक दृश्‍यता (मॉडर्न लुक) प्रदर्शित करती है। किफ़ायती लागत, गुणवत्ता तथा टिकाऊपन के कारण यह काफी लोकप्रिय फ्लोरिंग है।

पीवीसी फ्लोरिंग
Courtesy - magicaltouch

07. ग्‍लास फ्लोरिंग

ग्‍लास फ्लोरिंग का इस्‍तेमाल आम तौर पर नहीं किया जाता है, लेकिन आवासीय और सार्वजनिक, दोनों स्‍थानों में मुलायम एवं मनमोहक सतह के लिए लंबे व ऊंचाई वाले भवनों में इसका इस्‍तेमाल किया जा सकता है। ग्‍लास फ्लोरिंग सामान्‍य रूप से जीवाणु और धूल-रोधी होती है।

ग्लासस फ्लोरिंग
Courtesy - 123rf

09. लेमिनेट फ्लोरिंग

लेमिनेट फ्लोरिंग को सामग्री की अनेक परतों को एक साथ मिश्रित कर सृजित किया जाता है। इसे आसानी से धोया जा सकता है, यह काफी टिकाऊ होती है; खरोंच, निशान और धब्‍बे नहीं पड़ते हैं। लेमिनेट फ्लोरिंग धब्‍बा रहित है, और इसका रंग भी नहीं उतरता है।

लेमिनेट फ्लोरिंग
Courtesy - Shutterstock

10. कारपेट फ्लोरिंग

पॉलीप्रोपीलीन, नाइलॉन या पॉलीस्‍टर जैसे सिंथेटिक फाइबरों से कारपेट बनाया जाता है। समस्‍त फ्लोरिंग विकल्‍पों में यह सबसे अधिक विशिष्‍ट है। इसमें अन्‍य फ्लोरिंग सामग्रियों  की तुलना में ज्‍यादा रंग होते हैं और इसकी बनावट अच्‍छी होती है। यह नमी, टूट-फूट, घुन आदि से रोधी होती है।

कारपेट फ्लोरिंग
Courtesy - 123rf

11. ब्रिक फ्लोरिंग

ब्रिक फ्लोरिंग प्रचीनतम फ्लोरिंग सामग्री है। इसका इस्‍तेमाल आँगन, स्‍टोर, गोदाम, आदि में किया जाता है। ब्रिक फ्लोरिंग टिकाऊ तो है ही, पर इसकी सतह ठोस होती है। इसमें फिसलन नहीं होती, और आग भी नहीं लगती।

ब्रिक फ्लोरिंग
Courtesy - 123rf

12. कंक्रीट फ्लोरिंग

कंक्रीट फ्लोरिंग अति महत्‍वपूर्ण फ्लोरिंग सामग्री है। इसका इस्‍तेमाल पूरी दूनिया में सभी प्रकार के भवनों में आम तौर पर किया जाता है। कंक्रीट फ्लोरिंग काफी मजबूत होती है। यह भारी उपकरणों, जैसे कि कार, ट्रक, आदि के दबाव को भी आसानी से झेल सकती है।

कंक्रीट फ्लोरिंग
Courtesy - 123rf

13. मड फ्लोरिंग

मड फ्लोरिंग, अर्थात मिट्टी का फर्श भारत की पारिस्थितिकियों और जलवायु के लिए काफी अनुकूल है। इसका उपयोग अधिकतर गांवों व देहाती इलाकों में किया जाता है। मड फ्लोरिंग काफी सस्‍ती है। इसमें ठोसपन होता है और यह अभेद्यनीय है। इसको निर्मित करना आसान है तथा इसका रखरखाव काफी सरल है।

मड फ्लोरिंग
Courtesy - 123rf

14. कॉर्क फ्लोरिंग

यह एक प्राकृतिक सामग्री है जिसे कॉर्क ओक व़क्ष के बाहरी छिलके से बनाया जाता है। यह रंगीन टाइलों या शीट के रूप में उपलब्‍ध होती है। इस प्रकार की फ्लोरिंग का इस्‍तेमाल भारत में आम तौर पर नहीं किया जाता है।

कॉर्क फ्लोरिंग
Courtesy - 123rf

15. ऐसिड रेस्सिटिंग फ्लोरिंग

रासायनिक प्रयोगशालाओं, अम्‍ल विनिर्माण,  स्‍टोरेज बैट्री कारखाना भवनों तथा अन्‍य स्‍थानों  में इस प्रकार के फर्श का इस्‍तेमाल किया जाता है, क्‍योंकि वहां फर्श पर अम्‍ल गिरता है, जो हानिकारक हो सकता है।

ऐसिड रेस्सिटिंग फ्लोरिंग
Courtesy - 123rf

16. लाइनोलियम फ्लोरिंग

होम एडवाइजर के अनुसार, लाइनोनियम फ्लोरिंग को अलसी तेल, लकड़ी या कॉर्क पाउडर तथा ग्राउंड स्‍टोन से निर्मित किया जाता है। यह ऐसी सामग्री है जिसका पुनर्चक्रण किया जा सकता है और यह विभिन्‍न रंगों, आकृतियों एवं पैटर्न में उपलब्‍ध होती है तथा जल रोधी है। इसका आम तौर पर उपयोग रसोई, शोचालय व स्‍नानागार तथा लॉन्‍ड्री कक्षों में किया जाता है।

लाइनोलियम फ्लोरिंग
Courtesy - Armstrongflooring

17. रबड़ फ्लोरिंग

रबड़ फ्लोरिंग भारत में अधिक प्रचलित नहीं है। इस पर चलने में पैरों से कोई आवाज नहीं आती है, चलने में आरामदायक है, और काफी टिकाऊ है। रबड़ फ्लोरिंग की आरंभिक लागत कुछ महंगी है। यह बेहतरीन वियरिंग सरफेस उपलब्‍ध कराती है।

रबड़ फ्लोरिंग
Courtesy - 123rf

18. मैग्‍नेसाइट फ्लोरिंग

मैग्‍नेसाइट फ्लोरिंग को कैलसाइन्‍ड, मैग्‍नीशियम क्‍लोराइड, लकड़ी का बुरादा, चमकीले पत्‍थर (ग्राउंड क्‍वार्टज) या ठोस सफेद पत्‍थर (सिलिका) तथा  बेकार लकड़ी के परिष्‍कृत पाउडर से निर्मित किया जाता है। इसका इस्‍तेमाल कंक्रीट फर्श पर ऊपरी सतह को अच्‍छी आकृति देने के लिए किया जाता है। इसे एक जोड़रहित फर्श (ज्‍वांटलेस फ्लोर) के नाम से भी जाना जाता है। हालांकि इस प्रकार की फ्लोरिंग का इस्‍तेमाल आमतौर पर नहीं किया जाता है, पर यह सस्‍ती होती है और मुलायम सतह उपलब्‍ध कराती है। इसे खुदरी सतह पर बिना कोई जोड़ दिए स्‍थापित किया जा सकता है, क्‍योंकि इसकी सामग्री काफी फ्लेक्सिबल है।

मैग्ने्साइट फ्लोरिंग
Courtesy - wcdeckwaterproofing

फ्लोरिंग सामग्रियों के विकल्‍प समय के साथ-साथ बढ़ते जा रहे हैं और यह अनेक रूपों में उपलब्‍ध हैं। आपको अपनी जरूरत के अनुसार एक को चुनना है। आप अनेक प्रकार की ठोस या मुलायम सामग्रियों में से अपने इच्‍छानुसार के रंग और आकृति के साथ कोई अलग फ्लोरिंग सामग्री चुन सकते हैं।

Also Read:

Make a Right Choice Between Ceramic Tiles and Vitrified Tiles!
Things to Keep in Mind While Buying Ceramic Tiles

Material Exhibition

Explore the world of materials.
Exhibit your Brands/Products.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

More From Topics

Use below filters for find specific topics