fbpx

फ्लश डोर के विभिन्न प्रकार

This post is also available in: enEnglish (English)

छत और खिड़की के बाद दरवाजा घर का सबसे आवश्यक हिस्सा है। यह रहने वालों को सुरक्षा और गोपनीयता प्रदान करता है। यह घर के कमरों के अंदर या बाहर से प्रवेश या निकास प्रदान करता है।

घर के निर्माण में अलग-अलग प्रकार के दरवाजों का उपयोग किया जाता है। विभिन्न प्रकार के दरवाजों के अलग-अलग गुण होते हैं, उपयोग होते हैं और वे अलग-अलग सामग्रियों से बने होते हैं। फ्लश डोर एक साधारण आंतरिक या बाहरी दरवाजा होता है, जिसके निर्माण में दोनों तरफ सादे आवरण होते हैं। यह प्लाईवुड, विनियर या लेमिनेट्स की शीट द्वारा प्रत्येक तरफ कवर किया जाता है।

Also Read: Different Types of Doors

फ्लश डोर के विभिन्न प्रकार

फ्लश डोर के विभिन्न प्रकार

मुख्य रूप से, तीन प्रकार के फ्लश डोर हैं:

01. ठोस कोर फ्लश डोर या परतदार फ्लश डोर (Solid core flush door or Laminated flush Door)

ठोस कोर फ्लश डोर या परतदार फ्लश डोर

यह फ्लश डोर का सबसे लोकप्रिय प्रकार है। इन दरवाजों को लेमिनेटेड फ्लश डोर के रूप से भी जाना जाता है। जैसा कि नाम से पता चलता है, ठोस कोर फ्लश डोर या परतदार फ्लश डोर (Solid core flush door or Laminated flush door) के अंदर लकड़ी के ठोस ब्लॉक होते हैं। Solid core flush door मजबूत होते हैं और इनमें बेहतर साउंड प्रूफिंग गुण होते हैं।

ठोस कोर फ्लश दरवाजे स्टाइल्स और ऊपर और नीचे की रेल प्रत्येक जो 7.5 सेमी से कम चौड़ी नहीं होती है उससे बनते है। ठोस कोर दरवाजे ब्लॉकबोर्ड / पार्टिकल बोर्ड / मीडियम डेंसिटी फाइबरबोर्ड (एमडीएफ) / लेमिनेटेड कोर, क्रॉस बैंड, फेस विनीयर, आदि के संयोजन से बने होते हैं।

फ्रेम में फिक्स किए गए कोर की असेंबली पर प्लाईवुड शीट दबाव से ग्लू से दोनों सतह पर चिपकाया जाता है। प्लाईवुड की शीट्स के बजाय, अलग-अलग क्रॉस बैंड और फेस वेनीर्स का उपयोग भी किया जाता है। फ्रेम लकड़ी के चुने हुए टुकड़ों से बना है, लेकिन जहां लकड़ी के फ्रेम की एक ही प्रजाति का उपयोग करना संभव नहीं है, वहाँ आवश्यक ताकत और स्थायित्व प्राप्त करने के लिए फ्रेम के चारों ओर कठोर लकड़ी की लीपिंग (lipping) प्रदान करना आवश्यक है। लीपिंग की चौड़ाई कोर की मोटाई के बराबर होनी चाहिए और इसकी गहराई 25 मिमी से कम नहीं होनी चाहिए।

जब क्रॉस बैंड और फेस वेनीर्स को अलग-अलग चिपकाया जाता है, तो क्रॉस बैंड और कोर से लंब कोण पर रखा जाता है और इसके दोनों साइड पर चिपकाया जाता है। इसके बाद फेस वेनीर्स और क्रॉस बैंड्स के लंबकोण पर रखा जाता है और क्रॉस बैंड से चिपका दिया जाता है। प्लाईवुड की मोटाई या क्रॉस बैंड और फेस वेनीर्स की संयुक्त (combined) मोटाई 3 मिमी से कम नहीं होनी चाहिए।

ये दरवाजे काफी मजबूत हैं, लेकिन वे भारी हैं और इनमें अधिक सामग्री की जरुरत पड़ती है। इसका उपयोग ज्यादातर बाहरी दरवाजों के रूप में किया जाता है क्योंकि वे बेहतर शक्ति और ध्वनि इन्सुलेशन (sound insulation) प्रदान करते हैं। ठोस कोर दरवाजे सेलुलर कोर दरवाजे की तुलना में अधिक महंगे हैं।

02. खोखले कोर फ्लश डोर (Hollow Core Flush Door)

खोखले कोर फ्लश डोर

खोखले कोर डोर (Hollow core flush door) केवल honeycomb structure के साथ अंदर से खोखले होते हैं। खोखले कोर डोर (Hollow Core Flush Door) की फ्रेम में स्टाइल्स, टॉप, बॉटम और इंटरमीडिएट रेल होते हैं, जो चौड़ाई में 7.5 सेमी से कम नहीं होते। स्टाइल्स और रेल के बीच की जगह को लकड़ी के तख्ते से फिक्स करके विभाजित किया गया है। खोखले कोर (Hollow Core) शटर में, ऊर्ध्वाधर तख्ते (vertical battens) 25 मिमी से कम चौड़े नहीं होते हैं। ये तख्ते उन रेलों पर तय की जाती हैं जो रिक्त स्थान प्रदान करती हैं।

Also Read: Different Parts of a Door Frame

प्लाईवुड की sheets या क्रॉस बैंड्स और फेस वेनीर्स का संयोजन कोर के दोनों साइड पर दबाव से चिपकाया जाता हैं। प्लाईवुड की मोटाई 6 मिमी से कम नहीं होनी चाहिए। वे वजन में हल्के होते हैं लेकिन ठोस कोर दरवाजे की तरह मजबूत नहीं होते हैं।

03. सेलुलर कोर फ्लश डोर (Cellular Core Flush Door)

एक सेलुलर कोर फ्लश डोर फ्रेम में स्टाइल्स, ऊपरी पट्टी (टॉप रेल) और निचली पट्टी (बॉटम रेल) होते हैं। ये पट्टी चौड़ाई में 7.5 सेमी से कम नहीं होती है।

सेलुलर कोर फ्लश डोर

सेलुलर कोर की बनावट लकड़ी या प्लाईवुड बैटन को जोड़कर की जाती है। ये तख्ते (battens) 25 मिमी से कम चौड़ाई के नहीं होते हैं और समान रूप से voids के साथ वितरित किए (distribute) गए हैं और ये voids क्षेत्र (area) में 25 सेमी 2 से अधिक नहीं होते हैं।

डोर शटर कोर के दोनों सतह पर प्लाईवुड शीट्स या क्रॉस बैंड्स और फेस वेनीर्स दबाव से ग्लू लगाने से बनता है। प्लाईवुड की मोटाई 3 मिमी से कम नहीं होनी चाहिए। यह खोखले कोर की तुलना में मजबूत है लेकिन ठोस कोर की तरह मजबूत नहीं होते।

फ्लश डोर इसकी उपस्थिति, और मजबूती के कारण सबसे उमदा विकल्प है। उपलब्ध फ्लश डोर के प्रकारों को जानने से आपको अपने घर के दरवाजों के लिए एक सही विकल्प चुनने में मदद मिल सकती है।

Also Read:

Flush Doors vs Panelled Doors: Choose the Right Door to Enhance the Beauty of Home
Function of Door in the House
Precautions While Installing Wooden Doors and Window

Author

Kinjal Mistry

Mentor

--

Editor

--

Best Home Designs

Showcase your Best Designs

Material Exhibition

Explore the world of materials.
Exhibit your Brands/Products.

More From Topics

Use below filters for find specific topics